About Us

माँ लक्ष्मि ओर्गानिक इंडस्ट्री श्री भागवत नारायन सिंह के द्वारा २०१० में स्थापित की गई| श्री भागवत नारायन सिंह ने रासायनिक कृषि को परे रख कर जैविक खेती को महत्ता दी और अपने फार्म में जैविक उत्पादों का निर्माण आरंभ किया परिणाम स्वरुप कम लागत में उचत्तम फसल प्राप्त हुई | आज के इस रासायनिक युग में जैविक (कीटनाशक)कैटर कट, बायोसील अमृत वर्षा, पंचगव्य, बायोसिल अमृत, अमृतजल अदि का उपयोग कर के हमारे किसान बंधू प्राकृतिक एवं पोष्टिक फसलो का उत्पादन कर सकते है .

Our Statistics

आज कोई भी खाद्य सामग्री ऐसी नहीं बची जो कीटनाशकों के प्रभाव से वंचित हो । अन्न , सब्जिया , दूध , डिब्बा बंद सामग्री , ठण्डे पेय हर सामग्री में कीटनाशक मौजूद है । शोध में पता चला है कि आज सब्जिया का इस्तेमाल करने वालो को कैंशर का ज्यादा खतरा हो गया है । ऐसी स्तिथि पहले नहीं थी । कीटनाशकों के प्रभाव से मांस , मछली भी नहीं बचे है ।

आज जो चारा हम जानवरो को खिला रहे है उसमे भी रसायन मिला होता है । यानि जो उस जानवर का मांस खाएगा , उसके स्वास्थ्य पर भी असर पड़ेगा

गाय , भैंस , भेड़ , बकरी आदि पशुओ के दूध जहरीले होते जा रहे है । रिसर्च में तो यह भी पता चला है कि कीटनाशकों के शरीर में जाने से माँ का दूध भी प्रभावित हुआ है । रासायनिक उर्वरको के इस्तमाल से उपजाऊ जमीन तेजी से बंजर हो रही है । मृदा प्रदूषण के कारण हानिकारक तत्व फसलों में पहुँच रहे है

नतीजा , उनकी गुणवत्ता तेजी घाट रही है बहुराष्ट्रीय कम्पनिया गलत तथ्यों को सरकार के सामने पेश कर अपना व्यापार बड़ा रही है ।

Features

पंचगव्य

पंचगव्य यह एक अत्यधिक प्रभावी जैविक खाध है जो पौधों की वृद्धि एवं विकास में सहायता करता है और उनकी प्रतिरक्षा सहमत को बढ़ता है|पंचगव्य का प्रयोग गेहूँ, मक्का, बाजरा, धान, मूंग, कपास, सरसो, मिर्च, टमाटर, बैंगन, मूली, गाजर, हल्दी, हरी सब्जिया आदि तथा अन्य सभी फल पेड़ो एवं फसलो में महीने में दो बार क्र सकते है |

बायोसिल अमृत

यह प्रकाश संश्लेषण की क्रिया को बढाकर फफूंदी रोग लगने से बचाता है बड़े पेड़ या बगीचे में इसके छिड़काव से ७ दिनों नए शाखाये पत्ते आने लगते है इसके छिड़काव से फफूंद रोग की रोकथाम होती है स्वस्थ फूल और फल पहले की अपेक्षा अधयक मात्रा में आकर उत्पादन को बढ़ाते है बायोसिल अमृत मिर्च, बैंगन, करेला, लोकी, टमाटर आदि फसल पर लाभकारी है|खरीफ फसल-गेहूँ, चना, मक्का, गन्ना, धान, कपास इत्यादि सभी फसलो पर ज्यादा से ज्यादा लाभ लेने के लिए १५ दिनों के अंतराल में बायोसिल अमृत का प्रयोग करना चाहिए|चुकी बायोसिल अमृत बायो डायनेमिक है अतः इसका असर लंबे समय तक रहता है

कैटर कट

कैटर कट एक अत्यंत प्रभावशाली किट नाशक है,इसके उपयोग से सभी हानिकारक कीटो का नाश हो जाता है|इसके उपयोग से २-३ दिन में ही कीटो की मृत्यु हो जाती हैफसल पर दुबारा किट लगने की सम्भावना समाप्त हो जाती है |

product1

Duis aute irure dolor in reprehenderit in voluptate velit esse cillum dolore eu fugiat nulla pariatur. Excepteur sint occaecat cupidatat non proident, sunt in culpa qui officia deserunt mollit anim id est laborum sed lectus tellus, sodales id elit a, feugiat porttitor nulla.